रविवार, 20 फ़रवरी 2011

संयोग-वियोग में लिपटे एक प्रेमी के नोट्स

रजनीश शुक्ल ने एक प्रेमी के नोट्स पढ़ लिए, क्या है उसमे आपको बता रहे हैं..


1 टिप्पणी:

  1. कृपया मूल लिंक देखें। यहां लेखक के रूप में नाचीज का ही उल्लेख है
    http://www.bhadas4media.com/article-comment/9245-2011-02-13-12-33-08.html
    और मैं ही हूं लेखक।
    विनम्रता के साथ भूल सुधार का आग्रह।

    उत्तर देंहटाएं